Sirmaur:जल संरक्षण के तहत निर्माण कार्यो का केंद्रीय निगरानी दल ने निरीक्षण के उपरांत की समीक्षा बैठक

जल संरक्षण अभियान के अंतर्गत कैच द रेन मिशन के तहत प्रमोद कुमार (आई आर एस) मुख्य नोडल अधिकारी की अध्यक्षता में केंद्रीय निगरानी दल जिला सिरमौर में 26 से 29 जून तक तीन दिवसीय प्रवास पर है । इस दौरान इस दल के साथ संबंधित विभागों द्वारा जिला में विभिन्न जल संरक्षण कार्यों का निरीक्षण किया गया।
निगरानी दल द्वारा 26 जून को नाहन विकासखण्ड के सेन की सैर, बनकला व देवनी, 27 जून को पांवटा विकासखण्ड के गांव डांडा, राजपुर, गोज्जर अडेन, किल्लोड तथा क्लाथा बडाना और 28 जून को कृषि विज्ञान केन्द्र धौला कुआं, पच्छाद विकासखंड के गांव धरयार के समीप बावड़ी तथा महिलाओं द्वारा संचालित शी हॉट का मौके पर निरीक्षण किया। इस दौरान निगरानी दल ने अमृत सरोवर, प्राकृतिक जल स्रोतों का भी निरीक्षण किया।
इसके उपरांत आज सांय निगरानी दल द्वारा जिला सिरमौर में वर्षा जल संरक्षण योजना के तहत निर्माण कार्यों के संबंध में उपायुक्त कार्यालय के सभागार में विभिन्न विभागों के अधिकारियों के साथ बैठक का आयोजन किया गया।
प्रमोद कुमार (आई आर एस) मुख्य नोडल अधिकारी ने जिला के संबंधित विभागों के अधिकारियों से कहा कि  अमृत सरोवर के निर्माण के दौरान उनके सौन्दर्यकरण का भी ध्यान रखा जाए तथा इनके आस-पास ऐसे फल व छायादार पौधे रोपित करें जिनमे पक्षियों को आश्रय मिल सके और लोगों के आकर्षण का केन्द्र भी बन सके। उन्होंने कहा कि जिला में कम से कम 5 अमृत सरोवर का सौन्दर्यकरण अवश्य करें जिसमें जन सहभागिता को भी सुनिश्चित करें और इसके आस-पास साफ सफाई का भी ध्यान रखे।
इस अवसर पर निगरानी दल के तकनीकी अधिकारी एन. वीराबाबू, परियोजना अधिकारी जिला ग्रामीण विकास अभिकरण अभिषेक मित्तल, अधीशाषी अभियन्ता जल शक्ति विभाग आशीष राणा, अधीशाषी अभियन्ता लोक निर्माण वी.के. अग्रवाल सहित विभिन्न विभागों के अधिकारी उपस्थित थे।
Author: admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *