मतदान प्रतिशतता बढ़ाने के लिए जन-जन तक पहुंचाएं ‘स्वीप’ गतिविधियां, जिला निर्वाचन अधिकारी अमरजीत सिंह ने अधिकारियों को दिए निर्देश

हमीरपुर 14 मार्च। उपायुक्त एवं जिला निर्वाचन अधिकारी अमरजीत सिंह ने वीरवार को जिला के पांचों विधानसभा क्षेत्रों के एसडीएम और अन्य संबंधित अधिकारियों के साथ बैठक करके भारत निर्वाचन आयोग के जागरुकता कार्यक्रम ‘स्वीप’ के अंतर्गत आयोजित की जाने वाली विभिन्न गतिविधियांे की समीक्षा की।
इस अवसर पर उन्होंने बताया कि आगामी लोकसभा चुनाव में मतदाताओं की भागीदारी बढ़ाने के लिए निर्वाचन आयोग विशेष रूप से फोकस कर रहा है। इसलिए, जिला के सभी विधानसभा क्षेत्रों में ‘स्वीप’ से संबंधित गतिविधियां जन-जन तक पहुंचनी चाहिए। उन्होंने कहा कि प्रत्येक विधानसभा क्षेत्र स्तर पर ‘स्वीप’ के लिए एक-एक अधिकारी विशेष रूप से नामित किया गया है। ये अधिकारी अपने-अपने क्षेत्रों में लगातार जागरुकता अभियान चलाएं।
अमरजीत सिंह ने कहा कि 18-19 वर्ष के आयु वर्ग के कई युवाओं के नाम अभी भी मतदाता सूचियों में दर्ज नहीं हो पाए हैं। इन युवाओं पर विशेष रूप से फोकस करने की आवश्यकता है। उन्होंने उच्चतर शिक्षा विभाग और तकनीकी शिक्षा विभाग के अधिकारियों को भी इसमें सहयोग करने के निर्देश दिए।
जिला निर्वाचन अधिकारी ने कहा कि हिमाचल प्रदेश में पिछले दो चुनावों के दौरान कम मतदान प्रतिशतता वाले 414 मतदान केंद्रों में इस बार मतदान प्रतिशतता बढ़ाने के लिए निर्वाचन आयोग ने मिशन-414 आरंभ किया है। इसमें जिला हमीरपुर के भी 7 मतदान केंद्र शामिल हैं। इन मतदान केंद्रों पर विशेष जागरुकता अभियान चलाए जाएंगे।
उन्होंने बताया कि पिछले लोकसभा चुनाव में हिमाचल के 22 विधानसभा क्षेत्रों में 72 प्रतिशत से कम मतदान हुआ था। इन विस क्षेत्रों ‘22 गोइंग टू 72’ कैंपेन चलाया जाएगा। इनमें जिला हमीरपुर का भोरंज विधानसभा क्षेत्र भी शामिल है। यहां पिछले लोकसभा चुनाव में 69.58 प्रतिशत मतदान हुआ था।
जिला निर्वाचन अधिकारी ने शिक्षा विभाग, ग्रामीण विकास एवं पंचायतीराज विभाग, महिला एवं बाल विकास विभाग, नेहरू युवा केंद्र और स्वीप कार्यक्रम के नोडल अधिकारियों को निर्देश दिए कि वे अपने-अपने क्षेत्रों में नियमित रूप से मतदाता जागरुकता गतिविधियां आयोजित करें तथा इनकी विस्तृत रिपोर्ट भी तैयार करें।
स्वीप के तहत पांचों विस क्षेत्रों में अभी तक आयोजित विभिन्न कार्यक्रमों का ब्यौरा भी बैठक में प्रस्तुत किया गया। बैठक में एडीसी मनेश यादव, सभी एसडीएम, बीडीओ और स्वीप से संबंधित अन्य विभागों के अधिकारी भी उपस्थित थे।

Author: admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *